अजान लाउडस्पीकर पर पाबंदी सही, यह इस्लाम का हिस्सा नहीं : इलाहाबाद हाईकोर्ट

अजान लाउडस्पीकर पर पाबंदी सही, यह इस्लाम का हिस्सा नहीं : इलाहाबाद हाईकोर्ट

अजान लाउडस्पीकर पर पाबंदी:-

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने शुक्रवार को अजान के समय लाउडस्पीकर के प्रयोग पर बड़ा फैसला दिया है। इलाहाबाद हाई कोर्ट ने माना कि लाउडस्पीकर से अजान पर प्रतिबंध वैध है। किसी भी मस्जिद से लाउडस्पीकर से अजान दूसरे लोगों के अधिकारों में हस्तक्षेप करना है। इलाहाबाद हाई कोर्ट अजान के समय लाउडस्पीकर के प्रयोग से सहमत नहीं है। कोर्ट ने कहा कि अजान इस्लाम का अहम हिस्सा है, लेकिन लाउडस्पीकर से अजान इस्लाम का हिस्सा नहीं है।

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने मस्जिद से अजान पर बड़ा फैसला दिया है। कोर्ट ने कहा है कि लाउडस्पीकर से अजान देना इस्लाम का धार्मिक भाग नहीं है। अजान इस्लाम का धार्मिक भाग है। मानव आवाज में मस्जिदों से अजान दी जा सकती है। कोर्ट ने कहा है कि ध्वनि प्रदूषण मुक्त नींद का अधिकार जीवन के मूल अधिकारों का हिस्सा है। किसी को भी अपने मूल अधिकारों के लिए दूसरे के मूल अधिकारों का उल्लंघन करने का अधिकार नहीं है।

याचिका में तर्क दिया गया था- रमजान माह में लाउडस्पीकर से अजान की अनुमति न दी जाना धार्मिक स्वतंत्रता व मूल अधिकारों का हनन है। कोर्ट ने कहा- एक निश्चित ध्वनि से तेज आवाज बिना अनुमति बजाने की छूट नहीं है। रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक स्पीकर की आवाज पर रोक का कानून है। सिर्फ वही मस्जिदें लाउडस्पीकर का इस्तेमाल कर सकती हैं, जिन्हें अनुमति मिली है। बाकी अनुमति के लिए आवेदन कर सकते हैं।

 

Read More:-

गरीबों के राशन देने के नाम पर कॉंग्रेस MLA के स्कॉर्पियो से शराब की तस्करी,2 कार्यकर्ता गिरफ्तार

निजामुद्दीन मरकज से निकले 700 विदेशी जमातियों का पासपोर्ट समेत सभी दस्तावेज जब्त

Comments

comments