लॉकडाउन 4: कैसे मनाई जाएगी इस साल ईद, जानिए सरकार की ओर से जारी दिशा-निर्देश

आखिर क्यों मनाई जाती है बकरीद और शानदार ईद के शुभकामनाएं सन्देश
आखिर क्यों मनाई जाती है बकरीद और शानदार ईद के शुभकामनाएं सन्देश

लॉकडाउन 4: कैसे मनाई जाएगी इस साल ईद, जानिए सरकार की ओर से जारी दिशा-निर्देश:-

देशभर में लगातार बढ़ रही कोरोना संक्रमितों की संख्या को देखते हुए अब लॉकडाउन के चौथे चरण को भी लागू कर दिया गया है. देश में लॉकडाउन 4, 31 मई तक जारी रहेगा. इस दौरान देश में धार्मिक स्थल भी बंद रहेंगे और सभी सार्वजनिक आयोजनों पर भी पाबंदी रहेगी. वहीं अगले हफ्ते ईद का त्योहार है. ऐसे में इस बार ईद लॉकडाउन 4 में मनाई जाएगी. ईद के दौरान लोगों को मस्जिदों में जाकर नमाज पढ़ने की इजाजत नहीं होगी. यानी ईद के दिन भी लोगों को अपने घर पर ही नमाज अदा करनी होगी.

दरअसल देश में पिछले लगभग 53 दिनों से कोरोना के मामले आने शुरू हुए थे जो आज की तारीख में बढ़कर 90 हजार के ऊपर चली गई है. वहीं अगर मौजूदा समय में कुल एक्टिव कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या की बात की जाए तो कुल 53946 हैं, जबकि 34108 लोगों को इलाज के बाद उनके घर भेजा जा चुका है, वहीं देश के 2872 लोगों की इलाज के दौरान मौत हो चुकी है. आइए आपको लॉकडाउन 4.0 की गृहमंत्रालय से जारी की गई गाइडलाइंस की 10 बड़ी बातें बताते हैं

  • लॉकडाउन 4.0 में एक बार फिर रेल और शहरों की मेट्रो सेवाएं बहाल नहीं की गईं हैं.
  • हवाई यातायात पर भी रोक लगी रहेगी सभी तरह की घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर पाबंदी जारी रहेगी.
  • पिछले 3 लॉकडाउन की तरह इस बार भी शॉपिंग मॉल्स को खोने जाने की इजाजत नहीं दी गई है.
  • पिछले लॉकडाउन की तरह इस बार भी सभी धार्मिक स्थलों को बंद रखा गया है.
  • कुछ राज्यों के बीच आपसी सहमति के बीच बसों की सेवाएं शुरू की जाएंगी.
  • कंटेनमेंट जोन्स में किसी भी तरह की बस सेवाएं नहीं दी जाएंगी.
  • कंटेनममेंट ज़ोन को छोड़कर अंतरराज्यीय बस सेवाएं शुरू होंगी.
  • स्टेडियम और स्पोर्ट्स कांपलेक्स खुल सकते हैं. लेकिन दर्शकों की अनुमति नहीं होगी.
  • बुजुर्गों और 10 साल से कम उम्र के बच्चों को घर पर रहने की हिदायत दी गई है.
  • शाम-7 बजे सुबह 7 बजे तक पूरी तरह से लॉकडाउन जारी रहेगा.
  • गृहमंत्रालय की गाइडलाइंस के मुताबिक अब रेड, ग्रीन और ऑरेंज जोन राज्य तय करेंगे.
  • लॉकडाउन 4.0 में स्वास्थ्यकर्मियों को एक राज्य से दूसरे राज्यों में जाने की छूट मिली है..

Read More:

बिहार में गौ हत्या पर फिर बवाल, गोमाँस के खिलाफ उठाई आवाज तो अफरोज…

Comments

comments