2 महीने के लड़के के पेट में बच्चा , कुछ ऐसा है ये मामला

2 महीने के लड़के के पेट में बच्चा , कुछ ऐसा है ये मामला
2 महीने के लड़के के पेट में बच्चा , कुछ ऐसा है ये मामला

देश में अक्सर हम कुछ न कुछ अजीबो गरीब हरकतें या खबर सुनने को मिलती रहती हैं। कुछ ऐसा ही इस बार हुआ हैं । बीएचयू के बीएचयू सर सुन्दरलाल अस्पताल के बाल सर्जरी विभाग में एक 2 महीने के बच्चे के पेट से अविकसित भ्रूण को निकाला गया। यानि अगर थोड़ा लेट होता तो बच्चे की जान पर खतरा बन सकता था। भ्रूण में मस्तिष्क, फेफड़ा और रीढ़ ने आकार लेना शुरू कर दिया था। हालांकि यह अस्पताल में ऐसा चौथा केस रहा।2 महीने के लड़के 2 महीने के लड़के

यह केस चंदौली के एक दंपति का था , जो अपनी 2 महीने की बच्चे को लेकर अस्पताल पहुंचे थे। डॉक्टरों ने बच्चे की स्थिति देखने के बाद ऑपरेशन का निर्णय किया। आपरेशन के बाद जो परिणाम आया, वह चौंकाने वाला था। दो माह के बच्चे के पेट से अविकसित भ्रूण निकला। इस तरह की समस्या को चिकित्सकीय भाषा में फीटस इन फिटू कहा जाता है।

लड़के के पेट में भ्रूण मिलने का यह दूसरा केस था। बच्चे पेट में दाईं ओर भ्रूण पल रहा था। बाल सर्जरी विभाग में प्रो. एसपी शर्मा, डॉ. सरिता चौधरी, डॉ. श्यामेंद्र प्रताप, डॉ. आकाश मिश्रा, डॉ. शशि प्रकाश व डॉ. प्राची की टीम ने बच्चे का सफल आपरेशन किया है। भ्रूण का वजन 500 ग्राम है, जिसकी साइज 15 सेमी है। अब बच्चे की स्थिति में सुधार है, उसे आईसीयू में शिफ्ट किया गया है।

बाल सर्जरी विभाग के प्रो. एसपी शर्मा ने बताया कि इस तरह की समस्या फीमेल बच्चों में ज्यादा होती है। होता यह है कि यदि जुड़वां बच्चे गर्भाशय में हों तो कभी-कभी एक भ्रूण दूसरे को लपेट लेता है।

यह भी जरूर पढे :

रविवार को मत करना ये काम वरना होंगे गंभीर परिणाम

एनसीपी विधायकों पर लग सकता हैं दल बदल कानून , जाने

शिवसेना देखती रह गई और बीजेपी ने सरकार बना दी

सबसे महंगी टॉयलेट की सीट है ये पूरे विश्व की , अब कीमत मत पूछना

Comments

comments