जो उनकीआँखों से बयां होते हैं,
वो लफ़्ज शायरी में कहाँ होते हैं!

न तड़पता दिल न रोती आँखें,
न लबों पर नाम कोई और होता!
हम तेरी तमन्ना ही क्यों करते
अगर तेरे जैसा कोई और होता!

आज भी प्यारी हैं मुझे तेरी हर निशानी,
फिर चाहे वो दिल का दर्द हो या आँखों का पानी.

दिल की बातें बता देती हैं आँखे,
धड़कनों को जगा देती हैं आँखे,
दिल पे चलता नही जादू चेहरों का कभी
दिल को तो दीवाना बना देती हैं आँखे.

बहुत अंदर तक तबाही मचाता हैं,
वो आँसू जो आँखों से बह नही पाता हैं.

आँसुओं से जिनकी आँखे नम नही,
क्या समझते हो कि उन्हें कोई गम नही.

आँखे ही बना देती हैं फ़साना किसी का,
आँखे ही बना देती हैं दीवाना किसी का,
आँखे ही हँसाती हैं आँखे ही रूलाती हैं,
आँखे ही बसा देती हैं घराना किसी का.

तेरी आँखों में रब दिखता हैं,
क्योकि सनम मेरा दिल तेरे लिए धड़कता हैं.

तेरी याद को पसंद आ गई हैं,
मेरी आँखों की नमी,
हँसना भी चाहूँ तो रूला
देती हैं तेर कमी.

हमारे दर आ जाओ सदा बरसात रहती हैं,
कभी बादल बरसते हैं कभी आँखे बरसती हैं.

ये आँखे न होती ये नजारा न होता,
आँखों से मोहब्बत पढ़ने का फ़साना न होता.

रात की गहराई आँखों में उतर आई,
कुछ ख्वाब थे और कुछ मेरी तन्हाई,
ये जो पलकों से बह रहे हैं हल्के हल्के,
कुछ तो मजबूरी थी कुछ मेरी बेवफ़ाई.

आपकी आँखे है जैसे झील में उगता कमल,
सागर की शायरी की हो कोई प्यारी गजल.

मोहब्बत के भी कुछ राज होते हैं,
जागती आँखों में भी ख्वाब होते हैं,
जरूरी नही हैं कि गम में ही आँसू आएँ
मुस्कुराती आँखों में भी सैलाब होते हैं.

अपनी शरबती दो आँखों से दो घूँट पी लेने दो,
एक वजह दे दो जीने की जिन्दगी बसर कर लेने दो.

आपकी आँखे ऊँची हुई तो दुआ बन गयी,
नीची हुई तो हया बन गयी,
जो झुक कर उठी तो खता बन गयी,
और उठ कर झुकी तो अदा बन गयी.

आँखे मिलाने का शौक न था,
तुम्हें देखा तो आदत खराब हो गयी.

नशीली आँखों से वो जब हमें देखते हैं,
हम घबरा कर आँखे झुका लेते हैं,
कौन मिलाये उन आँखों से आँखें,
सुना हैं वो आँखों से अपना बना लेते हैं.

तेरी आँखों के जादू से तू ख़ुद नहीं हैं वाकिफ़
ये उसे भी जीना सिखा देता जिसे मरने का शौक हो.

आँखे थक गई हैं आसमान को देखते देखते,
पर वो तारा नही टूटता जिसे देखकर तुम्हें माँग लूँ.

पलकें तो आँखों की हिफ़ाजत होती हैं,
धड़कन तो दिल की अमानत होती हैं,
ये दोस्ती का रिश्ता भी अजीब हैं
कभी चाहत तो कभी शिकायत होती हैं.

नजरें झुकी तो पैमाने बने,
दिल टूटे तो महखाने बने,
कुछ तो हैं आप में क्योकि
यूँ ही नहीं हम आपके दीवाने बने.

दुःख गयी ये अखियाँ बहे खूब अश्क इसमें,
छोड़ आये वो गलियाँ सहे खूब गम जिसमें.

कई आँखों में रहती हैं, कई बाहें बदलती हैं,
मोहब्बत भी सियासत की तरह राहें बदलती हैं.

याद आती है तो जरा खो लेते हैं,
आंसू आँखों से उतर आये तो रो लेते हैं.

फूल तो फूल है आँखों से घिरे रहते है,
कांटे बेकार हिफाज़त में लगे रहते हैं.

 

Read More:-

Latest Romantic Love Holi Shayari | होली की शायरी

Hindi status images download for whatsapp and facebook

Mahakal Attitude Fadu Status | महाकाल स्टेटस

Comments

comments