1. अब सज़ा दे ही चुके हो तो मेरा हाल ना पूछना, अगर मैं बेगुनाह निकला तो तुम्हे अफ़सोस बहुत होगा।

  2. मैं फना हो गया अफ़सोस वो बदला भी नहीं,मेरी चाहतों से भी सच्ची रहीं नफरतें उसकी।

  3. अफसोस ये नहीं है कि दर्द कितना है,अफसोस तो ये है कि बस तुम्हें परवाह नहीं।

  4. न मोहब्बत सभाली गई न नफरतें पाली गयी,अफ़सोस है उस जिंदगी का जो तेरे पीछे खाली गयी।

  5. न कर अफ़सोस मेरे दोस्त,मेरे आँसुओं पे गौर करके,अपनी बेबसी पर लाख रोता है…कभी कुछ ख्याल करके,तो कभी कुछ ख्याल करके।

  6. मोहब्बत में लाखों ज़ख्म खाए हमने।अफ़सोस उन्हें हम पर ऐतबार नहीं।मत पूछो क्या गुजरती है दिल पर।जब वो कहते है हमें तुमसे प्यार नहीं।

  7. तन्हाई का उसने मंजर नहीं देखा,अफ़सोस कि मेरे दिल के अन्दर नहीं देखा,दिल टूटने का दर्द वो क्या जाने,जिसने ये लम्हा कभी जी कर नहीं देखा।

  8. चलिए अब तो मान लें, आप हैं दुश्मन मेरे,अफसोस है कि यार को ये कहना मुझे पड़ा।

  9. दीवाना मत कहो यूँ मुझको अच्छा नहीं लगता,बड़ा अफ़सोस होता है जब कोई अपना नहीं होता,लगता है कि होगी उसकी भी कोई मजबूरी,उसका इस तरह छोड़ के जाना अच्छा नहीं लगता।

  10. इसका अफसोस है कि हम तुझे पा न सके,दिलरुबा तेरी इन बाँहों में सर छुपा न सके।

  11. गम नहीं के तुम बेवफा निकली,मगर अफ़सोस इस बात का है,वो सब लोग सच निकले,जिनसे मैं तेरे लिए लड़ा था।

  12. मौत उसकी है करे जिसका ज़माना अफ़सोस,यूँ तो ज़िंदगी में आये हैं सभी मरने के लिए।

  13. वक़्त अपनों के लिए निकाल लिया था,पर अफ़सोस तब अपनों ने हमे निकाल दिया था।

  14. मुझे कुछ अफ़सोस नहीं के मेरे पास सब कुछ होना चाहिए था,मै उस वक़्त भी मुस्कुराता था जब मुझे रोना चाहिए था।

Comments

comments