अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा के सर्वश्रेष्ठ अनमोल विचार

अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा के सर्वश्रेष्ठ अनमोल विचार
अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा के सर्वश्रेष्ठ अनमोल विचार

बराक ओबामा का पूरा नाम बराक हुसैन ओबामा हैं, इनका जन्म 4 अगस्त 1961 में होनोलूलू में हुआ था। ओबामा एक ऐसे शक्स हैं, जो अपने हौसलों से नामुमकिन को मुमकिन (अश्वेत अमेरिकी राष्ट्रपति) करके दिखा सकते हैं। बराक ओबामा, USA के 44th राष्ट्रपति हैं और सबसे पहले अफ्रीकन अमेरिकन हैं जो इस पद पर आसीन हुए। बराक ओबामा को सबसे सफल अमेरिकी राष्ट्रपति के तौर पर देखे जाते हैं। दुनियाँ के शक्तिशाली व्यक्ति के रूप में भी इनकी पहचान हैं।

  1. अंत में, यह चुनाव क्या है? क्या हम सनकवाद की राजनीति या आशा की राजनीति में भाग लेते हैं?”
  2. अगर आप अपनी मुठ्ठी खोलोगे, तो हम अपना हाथ आगे बढ़ाएंगे।
  3. अगर हम परिवर्तन के लिए दुसरे के आगे आने की उम्मीद करेंगे तो परिवर्तन नहीं आएगा, बल्कि हमें खुद को ही उसके लिए आगे आना होगा।
  4. अपनी असफलताओं को अपने आपको परिभाषित मत करने दो।
  5. अमेरिकन अभी भी एक अमेरिका में विश्वास करते हैं जहां कुछ भी संभव है, वे सिर्फ अपने नेताओं के बारे में ही ऐसा नहीं सोचते।
  6. अमेरिका और इस्लाम अनन्य नहीं हैं और प्रतियोगिता में नहीं होना चाहिए। इसके बजाय, वे ओवरलैप करते हैं, और न्याय के आम सिद्धांतों और प्रगति, सहिष्णुता और सभी मनुष्यों की गरिमा साझा करते हैं।
  7. अमेरिका वीं शताब्दी में चले गए क्योंकि हमने हाई स्कूल मुफ्त बनाया है। हमने कॉलेज में एक पीढ़ी को भेजा। हमने दुनिया में सबसे अधिक शिक्षित कर्मचारियों की खेती की।
  8. अल कायदा अभी भी एक खतरा है हम किसी तरह का ढोंग नहीं कर सकते हैं क्योंकि बराक हुसैन ओबामा राष्ट्रपति के रूप में चुने गए, अचानक सबकुछ ठीक होने जा रहा है।
  9. आज के श्रमिकों को प्रशिक्षण देना काफी नहीं है, हमें कल के श्रमिकों को भी तैयार करना पड़ेगा। और इसके लिए सुनिश्चित करना होगा कि हर बच्चे को विश्व-स्तरीय शिक्षा मिले।
  10. आज के श्रमिकों को प्रशिक्षण देना काफी नहीं है, हमें कल के श्रमिकों को भी तैयार करना होगा। ये सुनिश्चित करके कि हर बच्चे को विश्व-स्तरीय शिक्षा मिले।
  11. आप जानते हैं, मेरा विश्वास किसी को संदेह करता है।
  12. आर्थिक रूप से बलवान हो जाना ही मुश्किल का हल नहीं हैं लेकिन यह हिम्मत जरुर देता हैं।
  13. इंटरनेट का अपना स्वयं का आविष्कार नहीं हुआ। सरकारी शोध ने इंटरनेट को बनाया ताकि सभी कंपनियां इंटरनेट से पैसा कमा सकें। मुद्दा यह है, कि जब हम सफल होते हैं, हम अपनी व्यक्तिगत पहल की वजह से सफल होते हैं, लेकिन यह भी क्योंकि हम एक साथ काम करते हैं।
  14. इस बदलती अर्थव्यवस्था में, कोई भी जीवन भर सेवा नहीं दे सकता, लेकिन मेरा मानना है कि सामुदायिक कॉलेज जीवन भर के लिए उन्हें नौकरी दे सकते हैं।
  15. ईश्वर को याद रखो और हमेशा सच बोलो।

READ MORE :

Comments

comments