जानें क्या हुआ था उस दिन जब अटल के घर होली पर पहुंच गए...

भारतीय जनता पार्टी के चुनिंदा कद्दावर नेताओं की बात की जाए तो उनमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम तो आता ही है लेकिन उनसे भी ऊपर जिस नेता का नाम अटल बिहारी वाजपेयी का...

जबरदस्ती संबंध बनाने की वो चीखें आज भी इस हवेली मे सुनाई देती है

आज हम आप लोगो को एक ऐसी हवेली के इतिहास के बारे मे बताने जा रहे है, जिसको पड़ने के बाद आपके पैरो तले ज़मीन खिसक जाएगी आप सभी को राजा मर्दन सिंह के...
village

यह भारत का अंतिम गाँव है, यह बहुत डरावना है, यहाँ तक कि पक्षी...

भारत में एक गाँव है, जहाँ का वातावरण अच्छा है और भय भी आपको भयभीत कर सकता है। लेकिन दिलचस्प बात यह है कि यहां जाने पर आप पड़ोसी देश श्रीलंका को करीब से...

नंदी ने दिया था रावण को ऐसा श्राप जो हो गया था सच

आप सभी ने अब तक कई ऐसी कथाएं शनि होंगी जो बहुत अजीब और भावपूर्ण रहीं हैं। ऐसे में आज भी हम आपको एक ऐसी कथा सुनाने जा रहे हैं जिसे सुनने के बाद...
क्यों कुंभ का मेला 12 साल में एक बार लगता है

क्यों कुंभ का मेला 12 साल में एक बार लगता है? कुंभ, अर्धकुंभ और...

क्यों कुंभ का मेला 12 साल में एक बार लगता है पौराणिक मान्यताओं के अनुसार एक बार इन्द्र देवता ने महर्षि दुर्वासा को रास्ते में मिलने पर जब प्रणाम किया तो दुर्वासाजी ने प्रसन्न होकर...

What does Christmas mean | क्रिसमस का अर्थ क्या है

क्रिसमस का अर्थ क्या है ? .... और क्रिसमस को एक्समस (X-mas) क्यों कहा जाता है?...!!!!! हम लोगों के तो संस्कृत या हिंदी के प्रत्येक शब्द का अर्थ है। क्योंकि सब संस्कृत के मूल धातु से...
कहानी:- मां बाप और तलाक, ये पढ़ना जरूरी है और पढ़ाना भी

कहानी:- मां बाप और तलाक, ये पढ़ना जरूरी है और पढ़ाना भी

ये पढ़ना जरूरी है और पढ़ाना भी.......... कल रात एक ऐसा वाकया हुआ जिसने मेरी ज़िन्दगी के कई पहलुओं को छू लिया. करीब 7 बजे होंगे, शाम को मोबाइल बजा । उठाया तो उधर से रोने की आवाज़.... मैंने...
What is Hindu Dharma, Difference in Hindu and Sanatan in Hindi, indiandiary, असली घटना

असली घटना- हिंदुओं से शत्रुता रखने वाले दोगलों को पहचानिए?

ये घटना सन 1999 की है, मेरे बड़े भैया ने मालेगाँव (महाराष्ट्र) से क़रीब 20 किमी दूर एक गाँव में नमकीन और मिठाई की एक छोटी सी दुकान खोली थी। दुकान गाँव के चौक...

Name of the country’s last letter of Ramprasad Bismil

रामप्रसाद बिस्मिल का देश के नाम अंतिम पत्र 16 दिसम्बर 1927 ई. गोरखपुर कारागार, उत्तरप्रदेश. भारत के महान क्रांतिकारी रामप्रसाद बिस्मिल ने गोरखपुर जेल की काल-कोठरी से 16 दिसम्बर 1927 ई. को निम्नलिखित पंक्‍तियों का उल्लेख...
बेटे भी घर छोड़ जाते हैं, बेटे को समर्पित Lines

बेटे भी घर छोड़ जाते हैं, बेटे को समर्पित Lines

"हर उस बेटे को समर्पित जो घर से दूर है" *बेटे भी घर छोड़ जाते हैं😔 😔 जो तकिये के बिना कहीं...भी सोने से कतराते थे... आकर कोई देखे तो वो...कहीं भी अब सो जाते हैं... खाने में सो...

The effect of compatible |संगत का असर…

संगत का असर… एक बार एक भंवरे की मित्रता एक गोबरी कीड़े के साथ हो गई ,कीड़े ने भंवरे से कहा कि भाई”तुम मेरे सबसे अच्छे मित्र हो इसलिये...

Good and Bad | अच्छाई-बुराई

अच्छाई-बुराई एक बार बुरी आत्माओं ने भगवान से शिकायत की कि उनके साथ इतना बुरा व्यवहार क्यों किया जाता है, जबकी अच्छी आत्माएँ इतने शानदार महल में रहती...

Get in touch

121,976FansLike
1,361FollowersFollow
254FollowersFollow

पॉपुलर पठित लेख ⇓