चेन्नई सुपर किंग्स टीम के बेहतरीन ऑलराउंडर ड्वेन ब्रावो को यह बात समझ नहीं आती कि जब भी चेन्नई की टीम मैच जीती है तो उम्र संबंधी सवाल क्यों उठाए जाते हैं। उनका मानना है कि अनुभव अधिक मायने रखता है।
चेन्नई की टीम ने मंगलवार को दिल्ली कैपिटल्स की टीम को 6 विकेट से हराया था। जब मैच के बाद ड्वेन ब्रावो से उम्र संबंधित सवाल पूछे गए तो उन्होंने आलोचकों को करारा जवाब दिया। ब्रावो ने कहा कि हमें अपनी उम्र बहुत अच्छे तरीके से पता है। जो हमारी उम्र है वही है। आप इसे गूगल पर सर्च कर सकते हैं। लेकिन यह कोई मसला नहीं है। हम 60 साल के बूढ़े आदमी नहीं है। हमारी उम्र 32 से 35 साल के बीच है। हमारे अंदर अभी भी जोश है। हम अपनी शरीर की फिटनेस पर पूरा ध्यान देते हैं और हमें खेल का बहुत ज्यादा अनुभव है।
ब्रावो ने बताया कि टीम जब भी कठिन परिस्थितियों में होती है तो महेंद्र सिंह धोनी का अनुभव काम आता है। उन्होंने बताया कि आप किसी भी मुकाबले में अनुभव को नहीं हरा सकते। हमें अपनी कमजोरियां पता है। हम चतुराई के साथ खेलते हैं। हमारी टीम की अगुवाई दुनिया के सर्वश्रेष्ठ कप्तान द्वारा की जा रही है।
धोनी हमें याद दिलाते हैं कि हमारी टीम सबसे तेज नहीं बल्कि सबसे अनुभवी है। जब ब्रावो से पूछा गया कि महेंद्र सिंह धोनी के साथ बल्लेबाजी को लेकर कोई रणनीति बनती है। तो उन्होंने कहा हमारी कोई रणनीति नहीं बनती। हमारी टीम बैठक नहीं करती है, मैदान पर उतार कर हम अपना काम करते हैं।

Comments

comments