Evergreen Dialogues from Bollywood Movies

Evergreen Dialogues from Bollywood Movies, SuperHit Dialogues:-

देवदास

“कौन  कम्बख्त  बर्दाश्त  करने  को  पीटा  है?  मैं  तो   पीता  हूँ  के  बस  सांस  ले  सकू  – दिलीप  कुमार

मदर  इंडिया  (1957)

“तू  मुझे  नहीं  मार  सकती , तू  मेरिमा  है   – सुनील  दत्त

“में  पहले  एक  औरत  हूँ ” – नरगिस .

Evergreen Dialogues from Bollywood Movies

मुग़ल -इ -आज़म  (1960)

“अनारकली , सलीम  की  मोहब्बत  तुम्हे  मरने  नहीं   देगी  और  हम  तुम्हे जीने  नहीं  देंगे ” – पृथ्वीराज  कपूर

आनंद  (1970)

“अरे  o  बाबूमोशा i! हम  सब  रंगमंच  की  कठपुतलियां  है  जिनकी  डोर  उपरवाले की  उँगलियों  से  बंधी   हुई  है . कब  कौन  उठेगा  कोई  नहीं  बता  सकता ” – राजेश  खन्ना .

अमर  प्रेम  (1971)

“pushpa  , आई  हेट  टीयर्स ” – राजेश  खन्ना

पाकीज़ह  (1972)

“आपके  पाऊँ  देखे , बहुत  हसीं  है . इन्हे  ज़मीन  पर  मत  उतारियेगा , मैले  हो  जायेंगे ”- राज   कुमार .

Evergreen Dialogues from Bollywood Movies

याददों  की  बरात  (1973)

“kutte  कमीने , मैं  तेरा  खून  पी  जाऊँगा ” – धर्मेंद्र

बॉबी  (1973)

“कोई  प्यार  करे  तो  तुमसे  करे , तुम  जैसे  हो  वैसे  करे . कोई  तुमको  बदल  कर  प्यार   करे  तोः  वह   प्यार  नहीं , सौदा  है ” – ऋषि  कपूर

दीवार  (1975)

“आज  मेरे  पास  गाडी  है , बंगला  है , पैसा  है … तुम्हारे  पास  क्या  है ?” – अमिताभ  बच्चन .

“मेरे  पास , मेरे  पास  माँ  है ” – शशि  कपूर .

शोले  (1975)

“अरे -o  -संभा ! कितने आदमी  थे ?” – अमजद  खान

“तुम्हारा  नाम  kya   hai  बसंती ” – अमिताभ  बच्चन

कालीचरण  (1976)

“सारा  शहर    मुझे  लायन  की  नामसे  जानता  है ” – अजित

डॉन  (1978)

“डॉन  का  इंतज़ार  तो  बारह  मुल्को  की  पुलिस  कर  रही  है , बट  डॉन  को  पकड़ना  मुश्किल  ही  नहीं , नामुमकिन  है ” – अमिताभ  बच्चन

मिस्टर  इंडिया  (1987)

“मोगाम्बो  खुश  हुआ ” – Amrish Puri

शहंशाह  1988)

“रिश्ते  में  to  हम   तुम्हारे  bap लगते  हैं , नाम  hai  शहंशाह ” – अमिताभ  बच्चन

Evergreen Dialogues from Bollywood Movies

मैंने  प्यार   किया  (1989)

“दोस्ती  ka   एक  उसूल  hai  , मैडम  – no  सॉरी , नो  थैंक  u ” – सलमान  खान

बाज़ीगर  (1993)

“कभी  कभी  कुछ  जीतने  की  लिए  कुछ  हारना  भी  पड़ता  है , और  हार  कर  जीतने  वाले  को  बाज़ीगर  कहते  हैं ” शाहरुख़  खान

दामिनी  (1993)

“तारीख  पे  तारीख  मिलती  रही  है  लेकिन  इन्साफ  नहीं  मिलता . milti   है  तो  सिर्फ  तारीख ” – सनी  देओल

दिलवाले  दुल्हनिया   ले  जायेंगे  (1995)

“बड़े  बड़े    शहरों  में  ऐसी  छोटी  छोटी  बातें  होती  रहती  हैं ” – शाहरुख़  खान

रंगीला  (1995)

“उसका  तो  न  बैड   लक  ही  ख़राब  है ” – आमिर  खान

मुन्नाभाई  MBBS  (2003)

“टेंशन  लेने  ka  नहीं , सिर्फ  देने  का ”  – संजय  दत्त

ॐ  शांत i ॐ  (2007)

“एक  chutki   सिन्दूर  की  कीमत  तुम  क्या  जानो  Ramesh  बाबू ” – दीपिका  पादुकोणे

चेन्नई  एक्सप्रेस  (2013)

“डोंट   अरिस्टेमेट  थे  पावर  ऑफ़  थे  कॉमन   men” शाहरुख़  खान

रईस  (2017)

“koi  धंधा  छोटा  नहीं  होता . और  धंधे  से  बड़ा  koi   dharm,  नहीं  होता ” – शाहरुख़  खान

Evergreen Dialogues from Bollywood Movies

Read More:-

अक्षय कुमार के सबसे मशहूर डायलॉग्स

Damdaar Shayari post, दमदार किंग स्टेटस, धाकड़ युवा स्टेटस

Bollywood movie shayari status, Filmi Shayari

Comments

comments

इस ऑफर का लाभ उठाने के लिए अभी क्लिक करे:-
Loading...