आम आदमी पार्टी की नेता आतिशी मार्लिना ने जिस तरह से भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार गौतम गंभीर के खिलाफ आपत्तिजनक पर्चे बांटने का आऱोप लगाया था, उसके बाद गौतम गंभीर ने उनके खिलाफ मानहानि का नोटिस भेजा है। गौतम गंभीर ने आतिशी मार्लिना के अलावा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के खिलाफ भी मानहानि का नोटिस भेजा है।

बता दें कि इससे पहले आतिशी ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में रो पड़ीं थीं। आतिशी में प्रेस कॉन्फ्रेस में अपने प्रतिद्वंदी और बीजेपी के उम्मीदवार गौतम गंभीर पर संगीन आरोप लगाए थे। आतिशी ने गौतम गंभीर पर अपमानित करने वाले पर्चे बंटवाने का आरोप लगाया।

आतिशी के आरोप पर पलटवार करते हुए गौतम गंभीर ने सीधे दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को निशाने पर लिया। गंभीर ने ट्वीट कर चैलेंज किया है कि, अगर साबित हो गया कि ये मैंने किया है तो मैं अपनी उम्मीदवारी वापस ले लूंगा, अगर नहीं तो क्या आप राजनीति छोड़ देंगे?

गौतम गंभीर ने अपने ऊपर लगे आरोपों का एक के बाद एक तीन ट्वीट कर जवाब दिया है। एक महिला- और वह भी अपनी सहयोगी- के सम्मान के साथ खिलवाड़ करने के आपके कृत्य से मुझे घृणा होती है केजरीवाल। ये सब बस चुनाव जीतने के लिए? आप गंदगी हैं मुख्यमंत्री जी और जरूरी है कि कोई आपकी ही झाड़ू उठाए और आपके गंदे दिमाग को साफ करे।

गौतम गंभीर ने कहा था कि, मैं जाहिर तौर पर इनके खिलाफ मानहानी केस करूंगा, आप ऐसे ही किसी की छवि खराब नहीं कर सकते, अगर आपके पास कोई सबूत नहीं है। मैंने अपनी चुनावी कैंपेन में कभी किसी के खिलाफ नकारात्मक बयान नहीं दिया। बता दें कि, प्रेस कॉन्फ्रेंस में आतिशी ने कहा कि मीडिया से बात करते हुए मुझे बहुत दुख हो रहा है। मुझे दुख होता है कि देश में राजनीति इतनी नीचे गिर गई है। जब गंभीर ने राजनिति में शामिल हुए तो मैंने उनसे कहा कि अच्छे लोग राजनीति के लिए महत्वपूर्ण हैं। लेकिन वो और उनकी पार्टी ने दिखा दिया कि कितना नीचे गिर सकते हैं। मैं राजनीति में पैसे या नाम कमाने के लिए नहीं आयी हूं। आतिशी ये कहते हुए रो पड़ीं कि अगर गंभीर मुझ जैसी मजबूत महिला को हराने के लिए इतना नीचे जा सकते हैं, तो एक सांसद के रूप में वह महिलाओं की सुरक्षा कैसे सुनिश्चित कर सकते हैं।

Comments

comments