आईपीएल 2019 के फाइनल मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स के 1 रनों से हार का सामना करना पड़ा। मैच की अंतिम दो गेंद पर चेन्नई को जीत के लिए 4 रनों की जरूरत थी लेकिन दो रन लेने के बाद अंतिम गेंद पर शार्दुल ठाकुर लसिथ मलिंगा की गेंद पर एलबीडबल्यू आउट हो गये। इसके बाद डग आउट में बैठे हरभजन सिंह का गुस्सा देखने लायक था।

चेन्नई सुपर किंग्स की टीम ने शेन वॉटसन के रन आउट होने के बाद शार्दुल ठाकुर को बल्लेबाजी के लिए भेजा।

हालाँकि, इस दौरान उनके पास हरभजन सिंह को बल्लेबाजी के लिए भेजने का मौका था।

भज्जी अनुभवी खिलाड़ी हैं और वह ऐसी परिस्थिति में कई बार रह चुके हैं। यही वजह है कि मैच में हारने के बाद उन्होंने अपना बैट पटका और डग आउट से बाहर चले गये।

हरभजन सिंह ने खुद खुलासा किया है कि उनसे पहले शार्दुल ठाकुर को बल्लेबाजी के लिए क्यों भेजा गया। टीम मैनेजमेंट के अनुसार शार्दुल तेजी से रन भाग सकते थे। स्पोर्ट्स तक से बातचीत में भज्जी ने कहा

‘प्लान ऐसा ही था कि मैं जाऊंगा लेकिन उस समय कोच ने ठीक समझा कि भागने की जरूरत है और शायद शार्दुल ठाकुर हमसे तेज भाग सकते हैं। हालाँकि मुझे मौका मिलता तो मैं टीम के लिए पूरी कोशिश की। भारत और मुंबई इंडियंस के लिए मैं ऐसी परिस्थति में खेल चुका हूँ।’

हरभजन सिंह ने शार्दुल ठाकुर की तारीफ की लेकिन उन्होंने कप्तानी पर भी सवाल खड़े कर दिए। भज्जी के अनुसार वह कप्तान होते तो बल्लेबाज को छक्का मारने की कोशिश करने के लिए बोलते ना कि एक या दो रन लेने की। उन्होंने कहा

‘शार्दुल अच्छे खिलाड़ी हैं और मैं उनके खेल की सराहना करता हूँ। उन्होंने काफी अच्छी गेंदबाजी कि लेकिन वह एक या दो रन लेने के बजाय हिट मारने की जरूरत थी। हिट मारने पर एक रन तो मिल ही जाता और गेंद इधर- उधर जाती तो दो रन भी हो सकते थे।’

Comments

comments