1. तुम्हारा होना इतवार के दिन जैसा है,कुछ सूझता नहीं बस अच्छा लगता है

  2. मुझको ऐसा दर्द मिला जिसकी दवा नहीं फिर भी खुश हूँ मुझको उससे कोई गिला नहीं और कितने आसू बहाऊ उसके लिए जिसको खुदा ने मेरे नशीब में लिखा नहीं

  3. अच्छे लोगो की भगवान परीछा बहुत लेता है लेकिन साथ नहीं छोड़ता बुरे लोगो को भगवान बहुत कुछ देता है पर साथ नहीं देता

  4. उसकी हसरत को मेरे दिल लिखने वाले काश उसको भी मेरी किश्मत में लिखा होता

  5. मेरे बाद किसी और को हमसफर बना कर देख लेना तेरी हर धड़कन कहेगी उसकी वफा में कुछ और बात थी

  6. होता नहीं मोहब्बत सूरत से मोहब्बत तो दिल से होती है सूरत उसकी प्यारी लगती है कद्र जिसकी दिलसे होती है

  7. इन्सान सिर्फ एक ही बात से अकेला पड़ जाता है जब उसके अपने ही उसे गलत समझने लगे

  8. मैंने तो सिर्फ मोहब्बत की थी वो भी करलेते तो शायद इश्क कहलाता

  9. तुम मेरी पहली मोहब्बत हो मगर मैंने तुम्हे चाहा है आखरी मोहब्बत की तरह

  10. किसी ने मुझसे पूछा की तुम उसे पाने के लिए किस हद तक जा सकते हो मैंने मुश्कुरा कर कह दिया हद पार करनी होती तो उसे कबका पा लिया होता

  11. दर्द तो बेहिसाब दिया आपने काश प्यार भी ऐसे किया होता

  12. हर चीज वही मिलती है जहा पर खोया हो पर विश्वाश वहा कभी नहीं मिलता जो एक बार खो जाए

  13. वो सुना रहे रहे अपनी वफाओ का किस्सा हम पर नजर पड़ी तो वो खामूश हो गए

  14. तुम्हे पाने की चाह में बहुत कुछ खोया है मैंने अब तुम मुझे मिल भी जाओ तो भी अफसोस होगा

  15. हाथ पकड़ कर रोक लेते अगर तुझपर जरा भी मेरा ज़ोर होता ना रोते हम तेरे लिए इतना अगर हमारी ज़िन्दगी में तेरे सिवा कोए और होता

  16. कागज़ की कश्ती से पार जाने की ना सोचचलते हुए तुफानो को हाथ में लाने की ना सोचदुनिया बड़ी बेदर्द है, इस से खिलवाड़ ना करजहाँ तक मुनासिब हो, दिल बचाने की सोच

Comments

comments